योगीराज में कराह उठा कुख्यात अतीक अहमद … 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कुर्क .. एक और बिल्डिंग पर चलेगा बुलडोजर

0
214

कुख्यात अतीक अहमद हो या मुख्तार अंसारी … योगीराज में ये माफिया कराह उठे हैं. एकसमय न सिर्फ सत्ता बल्कि कानून को अपने इशारों पर नचाने वाले ये कुख्यात योगीराज में जमीन सूंघ रहे हैं. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश के बाहुबली अपराधियों पर लगातार शिकंजा कसती जा रही है. बीते कुछ महीनों में लिए गए सख्त एक्शन से अपराधियों की चूलें हिल गई हैं.

योगीराज में हुई इस कार्रवाई में सबसे ज्यादा अगर कोई नाम चर्चा में रहा तो वह है फूलपुर का पूर्व सांसद और कुख्यात माफिया अतीक अहमद. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश का प्रशासन कुख्यात अतीक अहमद और उसके गुर्गों की काली कमाई से बनाई गईं अवैध सम्पत्तियों को चुन-चुन कर जमींदोज कर रहा है. उत्तर प्रदेश पुलिस हर उस शख्स तक पहुंच रही है जिसके तार कुख्यात माफिया अतीक अहमद से जुड़े हुए हैं. आपको बता दें कि अतीक अहमद अभी गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद है.

योगी सरकार ने ऑपरेशन माफिया के तहत अतीक अहमद की बीस अवैध संपत्तियों को चिन्हित किया है, जिसमें उसके चुनावी दफ्तर और मकान सहित दस संपत्तियों को गैंगेस्टर एक्ट 14 (1) के तहत कुर्क किया जा चुका है. इन संपत्तियों की अनुमानित कीमत करीब सौ करोड़ है. इसके अलावा कुल 8 संपत्तियों पर बने अवैध निर्माण को प्रशासन ने ध्वस्त कर अपने कब्जे में लिया है. प्रशासनिक अधिकारियों ने कहा कि अवैध कब्जे के खिलाफ यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी.

इसके अलावा अतीक अहमद के करीबियों पर भी शिकंजा कसते हुए उसकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चला है. पीडीए अर्थात प्रयागराज विकास प्राधिकरण और जिला प्रशासन भारी पुलिस बल की मौजूदगी में पूरी कार्रवाई को अंजाम देती है. पीडीए अतीक और उसके करीबियों के अवैध साम्राज्य को ध्वस्त करने में आए खर्च का लेखा-जोखा तैयार कर रहा है. इस धनराशि को अब अतीक अहमद से ही वसूला जाएगा. अर्थात योगी की सत्ता ने कुख्यात अतीक की जिन अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलवाया है, इन संपत्तियों को गिराने में जो भी खर्चा आया है, ये खर्चा भी अतीक अहमद से ही वसूला जाएगा.

जानकारी के मुताबिक़, पीडीए अतीक अहमद की अब एक और अवैध संपत्ति कुर्क करने की तैयारी में है, गैंगेस्टर एक्ट 14(1) के तहत उसकी धूमनगंज थाना क्षेत्र के नीम सराय की मुख्य मार्केट में स्थित प्रॉपर्टी को कुर्क किया जाएगा. कैण्ट पुलिस की रिपोर्ट के आधार पर जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने उसकी सम्पत्ति को कुर्क करने के आदेश जारी किए हैं. यह कार्रवाई 26 अक्टूबर से पहले कर ली जाएगी. साफ़ है कि योगी सरकार में चूलें योगीराज में हिल गईं है तथा ये कुख्यात माफिया अब जमीन सूंघ रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here