योगी आदित्यनाथ को उद्धव की चुनौती ….अगर चलाने की क्षमता हो तो फिल्म इंडस्ट्री को ले जाओ यूपी

0
266

बॉलीवुड के उभरते हुए अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले के बाद बॉलीवुड काफी समय से चर्चा में है. सुशांत कीमौत मामले की जाँच के दौरान ही बॉलीवुड का ड्रग्स कनेक्शन भी सामने आया है इस मसले पर महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश सरकार भी आमने सामने रही है. इसी बीच अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इशारों-इशारों में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को चुनौती दी है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बिना योग का नाम लिए कहा कि खबर है कि मुंबई की फिल्मसिटी वे उत्तर प्रदेश ले जाएंगे. यदि वे फिल्म इंडस्ट्री चलाने की क्षमता रखते हैं तो वे फिल्म उद्योग को ले सकते हैं. अगर उनमें क्षमता है तो वे वह फिल्म सिटी को उत्तर प्रदेश में ले जाकर दिखाएं. ज्ञात हो कि पिछले दिनों ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी यूपी में फिल्म सिटी बनाने का ऐलान किया था. उद्धव ठाकरे की यह चुनौती इसी संदर्भ में बताई जा रही है.

इसके अलावा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मनोरंजन उद्योग को बढ़ावा देने को लेकर कहा कि राज्य सरकार अच्छा कंटेंट तैयार करने के लिए वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी की सुविधाएं तैयार करेगी. ठाकरे गुरुवार को महाराष्ट्र फिल्म, मंच और सांस्कृतिक विकास निगम द्वारा आयोजित एक वेबिनार में बोल रहे थे. सीएम ठाकरे ने कहा कि सरकार राज्य में बेहतर बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराने के लिए फिल्म और मनोरंजन उद्योग में स्टेकहोल्डर्स से बातचीत करेगी.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि “यह एक ऐसा उद्योग है जिसे मैं बहुत निकटता से जुड़ा हुआ हूं. आप सभी को अपनी आवश्यकताओं को सूचीबद्ध करना चाहिए और उन्हें प्राथमिकता देनी चाहिए और सरकार उन सभी मदद का विस्तार करेगी जो आवश्यक है. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र मराठी सिनेमा के साथ-साथ किफायती सिनेमाघर और रिज़र्व स्क्रीन बनाने पर भी काम करेगा.

इस बीच, ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर ये सब करने की क्षमता रखते हैं तो चला लीजिए फिल्म उद्योग. उन्होंने कहा कि “महाराष्ट्र में फिल्म निर्माण सबसे अच्छी गुणवत्ता का होना चाहिए. इसके लिए, तकनीक और स्थान की आवश्यकता होती है, जिसको लेकर सरकार मदद करेगी. ठाकरे ने कहा “आज, साउंड मिक्सिंग के लिए, लोग लंदन जाना चाहते हैं. हम मुंबई में ऐसी सुविधाएं क्यों नहीं दे सकते? ” हम ये करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here