विदेशों में अच्छी नौकरी दिलाने का लालच देकर फंसाने वाले गैंग का हुआ पर्दाफाश, एक महिला पर एजेंट को मिलता है 20 से 30 हजार का कमीशन 

0
191

कानपुर विदेशों में अच्छी नौकरी का लालच देकर महिलाओं की विदेश में तस्करी करने वाले गैंग के मुख्य आरोपी को कमसेठी कानपुर की क्राइम ब्रांच टीम ने दबोच लिया है तस्करी के कई मामले आने के बाद क्राइम ब्रांच लगातार इस गैंग पर अपनी पैनी नजर लगाए हुई थी है आपको बता दें कि बेंगलुरु में गिरफ्तार किए गए मुख्य अभियुक्त को क्राइम ब्रांच ट्रांजिट रिमांड पर लेकर कानपुर आ रही है

तस्कर कानपुर और इसके आसपास के काफी जनपदों में महिलाओं को विदेश में अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा देकर ओमान और अन्य देशों में सप्लाई कर चुके हैं क्राइम ब्रांच टीम लगातार तस्करों पर नजर रखी हुई थी इसके चलते तस्कर गैंग के मुख्य आरोपी और बेंगलुरु में बैठे अमीन को शुक्रवार को दबोच लिया

बता दें कि मानव तस्करी के मामले में क्राइम ब्रांच की टीम ने अप्रैल महीने में दो एजेंट मुजम्मिल और अतीक उर रहमान को गिरफ्तार किया था यह दोनों एजेंट बंगलुरु में रहने वाले अमीन को कानपुर और उसके आसपास के जनपदों से महिलाओं की सप्लाई करते थे दोनों एजेंटों की गिरफ्तारी कर्नलगंज थाने में हुई है

दरअसल, एक शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया था कि उसकी पत्नी को विदेश में हॉस्पिटल में नौकरी देने का लालच देकर मुजम्मिल और अतीत और उर रहमान ने ओमान भेज दिया है जहां उन्हें घर का काम करने के साथ-साथ शारीरिक शोषण भी किया जा रहा है जब शिकायतकर्ता ने अपनी पत्नी को वापस बुलाने के लिए कहा तो इनके द्वारा ₹22000 भारत वापस का टिकट कहकर ले लिया गया इसके कुछ दिन बाद ₹100000 टिकट और अन्य कार्यों को बनवाने के नाम से मांगे गए साथ ही धमकी भी दी कि ऐसा न करने पर वह अपनी पत्नी को दोबारा नहीं देख पाएगा

मामले की गंभीरता को देखते हुए विदेश मंत्रालय भारत सरकार और भारतीय दूतावासों ने ओमान में संपर्क कर पूरी घटना की जानकारी दी जांच में पता चला कि सिर्फ शिकायत करता ही नहीं इसके अलावा यह एजेंट कई महिलाओं को अवैध टूरिस्ट वीजा बनवा कर विदेश भेज चुके हैं दोनों ने पूछताछ में स्वीकार किया कि अभी तक 20 महिलाओं को वह विदेश भेज चुके हैं इसके बदले कमीशन के रूप में प्रति महिला के हिसाब से इन्हें 25 से ₹30000 की कमीशन दी जाती है दोनों एजेंट ने पूछताछ के दौरान ही मुख्य एजेंट अमीन के बारे में जानकारी दी थी जिसकी तलाश में क्राइम ब्रांच काम कर रही थी इसी के तहत शुक्रवार को टीम को बड़ी सफलता बेंगलुरु में बैठे अमीन को दबोच ने में मिली अमीन के विदेशों में संपर्क है उसके पास ही विदेशों से महिलाओं के लिए डिमांड आती है

आपको बता दें कि, सलमान ताज पाटील पुलिस उपायुक्त का कहना है कि विदेशों में खासकर ओमान देश के दूतावास से संपर्क करके महिलाओं के बारे में जानकारी और उनकी वापसी के लिए प्रयास किया जा रहा है आमीन को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर बेंगलुरु से कानपुर लाया जा रहा है उससे पूछताछ मे अभी कई अहम जानकारियां निकल सकती है

Report- jivika jaiswal

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here