दलित महिला की जमीन पर जबरन कब्जा किया था सपा जिलाध्यक्ष ने .. लेकिन वो भूल गए थे सत्ता योगी की है

0
311

समाजवादी पार्टी के प्रतापगढ जिलाध्यक्ष शायद इस बात को भूल गए थे कि यूपी में अब समाजवादी पार्टी की सरकार नहीं है बल्कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार है तथा मुख्यमंत्री मुलायम या अखिलेश यादव नहीं बल्कि योगी आदित्यनाथ हैं. सपा जिलाध्यक्ष ने दलित महिला की जमीन पर कब्जा तो कर लिया लेकिन ऐसा करना उन्हें भारी पड़ गया है. पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने सपा जिलाध्यक्ष और उनके निजी सुरक्षा गार्ड को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

जानकारी के मुताबिक, बुलाकीपुर गांव की अनुसूचित जाति की गायत्री हरिजन पत्नी अर्जुन की सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव से जमीन पर कब्जे को लेकर रंजिश चल रही है. गायत्री का आरोप है कि शुक्रवार को दोपहर करीब 12 बजे सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव अपने निजी गार्ड राम सिंह यादव और तीन अज्ञात समर्थकों के साथ असलहों से लैस होकर सफारी से पहुंचे. इसके बाद फिल्मी अंदाज में गाड़ी से उतरकर उसके घर जा पहुंचे और गाली-गलौच करते हुए मारपीट शुरू कर दी. गायत्री के पति और बेटे को जमकर पीटा गया.

रोकने की कोशिश करने पर महिलाओं से अभद्रता की गई. घटना के बाद गायत्री देवी की तहरीर पर पुलिस ने सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव, निजी गार्ड राम सिंह यादव और तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ मारपीट, बलवा एवं एससी-एसटी सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया. शनिवार को दोपहर मानिकपुर एसओ सुभाष यादव को सूचना मिली कि सपा जिलाध्यक्ष अपने समर्थकों के साथ घर से निकलकर कुंडा की ओर जा रहे हैं.

इस पर एसओ ने फोर्स के पास दोपहर 12.15 बजे कुंडा बाईपास से सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव और गार्ड राम सिंह यादव निवासी मऊदारा मानिकपुर को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी की सूचना मिलने के बाद एएसपी पश्चिमी दिनेश द्विवेदी, सीओ जितेंद्र सिंह परिहार मानिकपुर थाने पहुंचे. वहां पूछताछ के बाद पुलिस ने सपा जिलाध्यक्ष और गार्ड को जिला मुख्यालय स्थित न्यायालय में पेश किया जहाँ से छविनाथ यादव व राम सिंह यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here