हिंदू मां की बेटी होने के कारण अपने ही घर में यौन उत्पीडन व हिंसा का शिकार होती रही नवाजुद्दीन सिद्दीकी की भतीजी

0
638
बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी की भतीजी साशा सिद्दीकी द्वारा अपने ही चाचा पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाए के जाने बाद खलबली मच गई है. नवाज की भतीजी का आरोप है कि उसके चाचा मिनाज अर्थात नवाज के भाई उसका बचपन से ही यौन उत्पीड़न करते रहे हैं, उसके साथ हिंसा की जाती रही हैं. इसे लेकर नवाज की भतीजी साशा ने दिल्ली के जामिया थाने में शिकायत भी दर्ज कराई है.
शिकायत दर्ज कराने के बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी की भतीजी साशा ने अपने साथ हुई प्रताड़ना को लेकर जो खुलासे किये हैं वो और भी अधिक चौंकाने वाले हैं. पिंकविला को दिए एक इंटरव्यू में साशा ने खुलकर इस परिवार के सारे गहरे राज़ लोगों के सामने लाए हैं. साशा का कहना है -हमारे घर में औरतों के साथ हमेशा ही मार पीट होती है. शादी के दूसरे दिन से ही मारना पीटना शुरू हो जाता है. हमारे घर में तीन तलाक हो चुके हैं. मेरी मम्मी और मेरी दो चाचियां भी इसी वजह से घर छोड़ कर चली गई थीं.
साशा ने बताया है कि कैसे उनके चाचा मिनाज लगातार सालों तक उनका यौन उत्पीड़न करते रहे लेकिन पूरे परिवार ने उनकी कोई मदद नहीं की. साशा ने बताया कि जब से उन्होंने अपनी आवाज़ उठाई है और केस किया है तब से नवाज़ुद्दीन का पूरा परिवार उन्हें धमकी दे रहा है और उनके पूरे परिवार को परेशान कर रहा है. मैं नौ साल की थी जब चाचा ने मेरे साथ ये सब करना शुरू किया। वो कभी मेरी जांघों पर हाथ फेरते थे तो कभी मेरे बालों को छूते थे, लेकिन मुझे समझ नहीं आता था कि मेरे साथ क्या हो रहा है.
साशा बताती हैं कि मुझे लगता था कि चाचा हैं हो सकता है मेरे साथ प्यार से ऐसा कर रहे हैं. जब मैं 14 साल की थी तो दिल्ली में थी और मुझे समझ आया कि मेरे साथ गलत हो रहा है. हमारा पूरा परिवार एक साथ इकट्ठा हुआ था. मैं अपने कमरे में वीडियो गेम खेल रही थी कि मीनाज़ चाचा मेरे पास आकर लेट गए और मुझे गलत तरीके से छूने लगे, तब मुझे लगा कि कि ये गलत है.
साशा के मुताबिक़, ये सिलसिला चलता रहा. मैंने घर में सबको बताया लेकिन किसी ने मुझ पर भरोसा नहीं किया. मेरे माता पिता का तलाक हो चुका था और वो घर में नहीं रहती थीं. मुझे इसी चीज़ के ताने मिलते रहते थे और कोई मुझ पर भरोसा नहीं करता था. नवाज की भतीजी साशा ने पिंकविला को बताया है कि परिवार में सभी लोग मानते थे कि मेरी मां हिंदू थी, झूठी थी और मैं भी वैसी हूं. मैंने सबको बताया लेकिन किसी ने मेरी बात नहीं मानी.
पिंकविला को साशा ने बताया है कि मेरी मां के साथ भी घर में बहुत वहशियत होती थी. उनसे मारपीट की जाती थी. वो पंजाबी थीं. इसलिए वो परेशान होकर घर छोड़कर चली गई थीं. मेरे पापा उनके साथ मार पीट करते थे लेकिन मम्मी मुझे साथ नहीं ले जा पाईं क्योंकि वो गरीब थीं. मेरे साथ ये सिलसिला 18 साल तक चला. मेरी शादी के तीन महीने पहले, मेरे चाचा मुझसे ज़बरदस्ती करने लगे और चाहते थे कि मैं उनके साथ सेक्स करूं. मैं चिल्लाई तो उन्होंने बेल्ट से मेरी पिटाई की. किसी ने मेरी मदद नहीं की.
साशा का कहना है कि मैंने अपने बॉयफ्रेंड को कहा कि मुझे यहां से ले जाओ. अगले दिन वो आए तो उनकी भी मार पिटाई की गई. ये सिलसिला 2017 तक चला, जब तक मैं 18 साल की नहीं हुई. मैंने अपने पिता से भी कहा कि मेरे साथ ऐसी चीज़ें हो रही हैं लेकिन उन्होंने अपने भाई पर भरोसा किया. मेरे पिता देखते थे कि उनके भाई मुझे कैसे छू रहे हैं फिर भी वो अपने भाई का भरोसा करते थे. मैंने नवाज़ बड़े पापा को भी बताया तो उन्होंने मुझसे बैठा कर पूछा कि बताओ क्या करना है. उस समय मैं आठवीं कक्षा में थी. मेरी पढ़ाई छुड़वा दी गई थी.
साशा के मुताबिक़, जब मैंने नवाज़ बड़े पापा नवाजुद्दीन से चाचा की शिकायत की तो उन्होंने मुझसे कहा कि कौन सी फिल्में देखकर ये सब डायलॉग सीख रही हो. वो चाचा है तुम्हारा, मेरा भाई ऐसा कुछ नहीं कर सकता है. बड़े पापा(नवाज) ने भी मेरी बात का विश्वास नहीं किया. मुझे लगता था कि नवाज़ बड़े पापा ऐसी सोसाइटी में उठते बैठते हैं जहां औरतों की इज़्जत की जाती है.
मुझे लगता था कि बड़े पापा फिल्मों में हैं और खुले विचारों के हैं तो मेरी बात समझेंगे लेकिन उन्होंने भी मुझ पर विश्वास करने से मना कर दिया. 2017 सितंबर में, मेरी शादी से दो महीने पहले मीनाज़ आए और मेरा हाथ पकड़ने लगे. मेरी दादी भी घर में थी. लेकिन मेरे मुंह पर हाथ रख दिया गया और बेल्ट से पीटा गया. मेरे पास आज भी वो तस्वीरें हैं. मैंने तुरंत ही शादी करने का फैसला किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here