ट्रक चुराने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया संजय को… जमानत मिलने पर थाने से फिर चुराया वही ट्रक व लेकर भाग गया

0
159

खबर पढ़ने पर हंसी भले आ जाए लेकिन इस घटना ने महाराष्ट्र पुलिस की सक्रियता की पोल जरूर खोल दी है. एक चोर को ट्रक चोरी के आरोप में पकड़ा जाता है. ट्रक को थाने में खड़ा कर दिया जाता है. पुलिस के व्यवहार से चोर नाराज होता है तथा पुलिस को चुनौती देता है कि वह इसी ट्रक को एक बार फिर से चुराएगा, पुलिस में हिम्मत है तो रोक के दिखाए. चोर को जैसे ही जमानत मिलती है, चोर थाने पहुंचता है, ट्रक को चुराकर रफूचक्कर हो जाता है व पुलिस देखती रह जाती है.

मामला मध्य प्रदेश के नागपुर का है जहाँ अक्टूबर के पहले हफ्ते में संजय ढोन नाम के आदमी ने एक ट्रक की चोरी की. पकड़ा गया. पुलिस ने ट्रक ज़ब्त करके संजय को गिरफ्तार कर लिया. संजय जब जमानत पर छूटा, तो पुलिस स्टेशन आया. वापस वही ट्रक चुराकर भाग गया. संजय ने ट्रक ओल्ड भंडारा रोड से चुराया था. उसमें लोहे का सामान था. तकरीबन 14 लाख का. वो अमरावती में पकड़ा गया था. इसके बाद ट्रक को लकड़गंज पुलिस स्टेशन ले जाया गया. वहीं खड़ा कर दिया गया.

खबर के मुताबिक़, संजय इस बात से नाराज़ था कि पुलिस वालों ने उससे उसका फोन ज़ब्त कर लिया था. उसने सीताबुल्दी थाने में एक फर्जी शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की. नशे की हालत में. लेकिन पुलिस वालों ने उसे लौटा दिया. तभी संजय ने कहा था कि जिस ट्रक की चोरी के लिए उसे गिरफ्तार किया गया था, उसे वापस चुराकर दिखायेगा. 19 अक्टूबर को लकड़गंज पुलिस थाने के बाहर से संजय ने ट्रक वापस चुरा लिया और भाग निकला.

इसके बाद पुलिस की खूब किरकिरी हुई. चोर की गिरफ्तारी के लिए 36 घंटे नागपुर पुलिस चक्करघिन्नी बनी रही. हरकत में आए पुलिसकर्मी आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुट गए थे. आखिरकार गोरेवाड़ा चौक स्थित सीसीटीवी में संजय ट्रक के साथ कैद हो गया था. इससे पुलिस का मानना था कि संजय काटोल, कलमेश्वर मार्ग से भाग गया है. मंगलवार को पुलिस ने अमरावती जिले के वरूड़, नागपुर जिले के काटोल, कलमेश्वर, सावनेर आदि  स्थानों की खाक छानी. इस बीच शाम सात बजे ट्रक कलमेश्वर से बरामद हुआ और संजय काटोल से पकड़ा गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here