रिटायर्ड कानूनगो गिरफ्तार, 100 से ज्यादा नाबालिगों से दरिंदगी का शक, हार्ड डिस्क देख पुलिस के उड़े होश

0
95

 

कानपुर. प्रदेश में महिलाओं के अलावा नाबालिगों के साथ घिनौने कृत्य की खबरें भी सामने आने लगी हैं। कुछ समय पहले चित्रकूट में जेई रामभवन का केस सामने आया था। जिसमें सिंचाई विभाग के जूनियर निलंबित इंजीनियर रामभवन पर आरोप लगा था कि दो वर्षों तक बच्चों का यौन शोषण किया और फिर डार्कवेब के माध्यम से वीडियो को अश्लील साइटों को बेच दिए। हालांकि ऐसा मामला सामने आते ही जिले का हर व्यक्ति अवाक रह गया।

अब उत्तर प्रदेश के उरई जिले से भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है

जिसमें कई मासूमों को अपनी दरिंदगी का शिकार बनाने के आरोप में रिटायर्ड कानूनगो को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बता दें कि आरोपित किशोरों का वीडियो बनाकर उनको ब्लैकमेल करता था। पुलिस ने आरोपित के घर से एक लेपटॉप, पेनड्राइव, डीवीआर, एक्सटर्नल हार्डडिस्क बरामद की है। उरई के इस मामले में सबसे चौंका देने वाला तथ्य ये है कि आरोपित रामबिहारी राठौर वर्तमान में वह भाजपा का नगर उपाध्यक्ष है। इसके भाजपा नेता होने की पुष्टि स्वयं भाजपा जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह ने की।

भाजपा उपाध्यक्ष के पद से किया गया निष्कासित

वास्तव में यह कृत्य इतना निंदनीय और भत्र्सनीय है कि इसके लिए बड़े से बड़ा दंड भी छोटा लगे। हालांकि हम आपको बता दें कि ऐसे अक्षम्य अपराध के लिए रामबिहारी राठौर को भाजपा के नगर उपाध्यक्ष पद से निष्कासित कर दिया है। इसकी जानकारी भी भाजपा जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह ने दी।

पहले बुलाता था घर और फिर बनाता था शिकार

तहसील कोंच नगर के मोहल्ला भगतसिंह नगर निवासी रामबिहारी राठौर बीते कई वर्षों से मोहल्ले एवं आसपास के इलाके के बच्चों को अपने घर पर बुलाकर उनके साथ जुआ खेला करता था और नशीली दवा देकर उन्हें बेहोश कर उनके साथ कुकर्म करता था। जिसका वीडियो कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे में बना कर अपने लैपटॉप के हार्डडिस्क में सेव लिया करता था। जिससे वह उन मासूमों को ब्लैकमेल कर और किशोरों को उसके कमरे पर लाने के लिए मजबूर किया करता था। इलाके के कई बच्चे उसके इस अनैतिक कार्य का शिकार हो चुके थे।

बच्चों ने दिखाया साहस तो खुला खेल

सात दिन पूर्व मोहल्ले के ही दो किशोरों ने हिम्मत दिखाई और उसके लैपटॉप से हार्डडिस्क चोरी कर ली। इसके बाद आरोपित ने अपने राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए उनके विरुद्ध पुलिस पर दबाब बनाया। पुलिस ने एक दिन पहले चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया था। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और मामले की जांच की तो हार्डडिस्क पुलिस के हाथ लग गई जब पुलिस ने उसे देखा तो पुलिस होश उड़ गए।

200 से अधिक वीडियो पुलिस को मिले

रिटायर्ड कानूनगो एवं भाजपा नगर उपाध्यक्ष बच्चों के साथ अश्लीलता और कुकर्म के 200 से अधिक वीडियो हार्डडिस्क में सेव किये गए थे। इसके बाद पुलिस ने आरोपित राम बिहारी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को इतनी बड़ी संख्या में वीडियो मिले कि ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि आरोपित 100 से अधिक बच्चों को शिकार बना चुका है। सीओ राहुल पांडेय का कहना है आरोपित रामबिहारी के विरुद्ध कुकर्म व पॉक्सो एक्ट के दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। अभी तक सात किशोर सामने आ चुके हैं जिनके साथ कुकर्म हुआ है। पुलिस कप्तान डाॅ. यशवीर सिंह ने बताया कि उक्त मामले की गहनता के साथ जांच की जा रही है।

DEEPAK SHARMA

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here