न भूलेंगे न माफ करेंगे के मिशन पर संभल पुलिस, दो सिपाहियों की हत्या कर भागे ढाई लाख के इनामी बदमाश शकील को किया ढेर

0
377

पिछली 17 जुलाई को न सिर्फ पश्चिम उत्तर प्रदेश का संभल बल्कि पूरा सूबा उस समय दहल उठा था जब बंदियों की चलती वैन में संभल पुलिस के दो सिपाहियों की बदमाशों ने हत्या कर दी था तथा फरार हो गए थे. इसके बाद पूरा सूबा आक्रोशित हो उठा था. संभल पुलिस ने उसी समय प्रण ले लिया था इस क्रूर कृत्य को न तो भूलेंगे तथा न ही माफ करेंगे. संभल पुलिस के जवानों ने अपने इस प्रण को उस समय अंजाम तक पहुंचा दिया जब उन्होंने सिपाहियों की हत्या कर भागे तीन बदमाशों में से दूसरे बदमाश शकील को भी आज मुठभेड़ में ढेर कर दिया. मारे गए बदमाश शकील पर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित था.

बदमाश शकील के साथ हुई मुठभेड़ की इस घटना में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के दो सिपाहियों को भी गोली लगी है. उन्हें सीएससी में प्राथमिक उपचार के बाद जनपद अस्पताल रेफर किया गया है. ज्ञात हो कि इसी 17 जुलाई को बंदियों को ले जाने वाली वैन में दो सिपाहियों की हत्या कर तीन बदमाश फरार हो गए थे. पुलिस ने तीनों को जिंदा या मुर्दा पकडऩे पर ढाई-ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित किया था. इनमें से बदमाश कमल को अमरोहा पुलिस ने गत 20 जुलाई को मुठभेड़ में मार गिराया था, जबकि धर्मपाल व शकील अभी तक फरार चल रहे थे.

सम्भल पुलिस ने एसपी यमुना प्रसाद के नेतृत्व में दोनों बदमाशों को पकडऩे के लिए अभियान चला रखा था. आज रविवार को मुखबिर द्वारा पुलिस को सूचना मिली कि गवां क्षेत्र के मौलनपुर के जंगल में चार बदमाश रूके हुए हैं और वह किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में लगे हैं. आशंका जताई कि इनमें धर्मपाल व शकील भी हो सकते हैं. इसका पता चलते ही सम्भल पुलिस बदमाशों को पकडऩे के लिए जाल बिछा दिया. इस टीम को खुद एसपी यमुना प्रसाद लीड कर रहे थे. एसओजी टीम के साथ एसपी यमुना प्रसाद ने गुन्नौर, धनारी और रजपुरा थाना पुलिस के साथ जंगल को घेर लिया.

पुलिस को देखते ही बदमाश सतर्क हो गए तथा ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी और भागने लगे. इसी दरम्यान अपना बचाव करते हुए पुलिस टीमों ने भी जवाबी फायरिंग की. इसमें एक बदमाश शकील पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया. इसके अलावा एसओजी टीम के सिपाही विनीत व विकास को भी गोली लगी और वे जख्मी हो गए. बदमाशों की फायरिंग थमते ही पुलिस तेजी के साथ जंगल के अंदर घुसकर खोजबीन करने लगी. इसी दौरान एक बदमाश उसे गोली लगने से जख्मी मिला. घायल बदमाश व सिपाहियों को पुलिस ने तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने बदमाश शकील को मृत घोषित कर दिया. घायल सिपाही जनपद अस्पताल रेफर कर दिए गए.

उधर मौलनपुर के जंगल में एएसपी आलोक जायसवाल, सीओ सम्भल केके सरोज, सीओ गुन्नौर अशोक सिंह, इंस्पेक्टर धनारी, गुन्नौर औरे रजपुरा के अलावा आदमपुर थाने की पुलिस भी बैक सपोर्ट में पहुंच गई. जंगल में खोजबीन के दौरान पुलिस को बदमाशों का एक बैग व असलहे बरामद हुए हैं. आशंका है ि‍कि वह किसी वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे. फिलहक संभल पुलिस के जवानों की इस जांबाजी को न सिर्फ संभल बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश की जनता सराह रही है, संभल पुलिस के शौर्य को सलाम कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here