इश्तियाक व उन्मादी भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला जयप्रकाश कुशवाहा को.. चुप हैं पहलू खान व तबरेज पर विधवा विलाप करने वाले

0
522
याद कीजिये, किस तरह गौतस्कर पहलू खान व चोरी करने के आरोपी तबरेज अंसारी की मौत के बाद देशभर में मॉब लिंचिंग का कैसा हौव्वा खड़ा किया गया था. सड़क से लेकर संसद तक हंगामा किया गया था. तमाम कथित लिबरल्स, सेक्यूलर्स, अर्बन नक्सली, खान मार्किट गैंग तथा टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य विधवा विलाप कर रहे थे, देश में मनगढंत सहिष्णुता का रुदन शुरू हो गया था.
लेकिन अब जब इश्तियाक व उसके साथ की उन्मादी भीड़ द्वारा जयप्रकाश कुशवाहा को पीट पीट कर मार डाला गया है तब पहलू खान व तबरेज पर विधवा विलाप करने वाले बुद्धिजीवी व सेक्यूलर राजनेता पूरी तरह से चुप्पी साध गए हैं. मामला उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के सलेमपुर कोतवाली क्षेत्र के इटहुआ चंदौली गांव के झम्मन टोला का है, जहां    रहने वाले जयप्रकाश कुशवाहा (55) शनिवार शाम अपने पशुओं को चारा खिला रहे थे. तभी वहां इश्तियाक अंसारी घर के युवक आकर जयप्रकाश की जमीन पर लगे जामुन के पेड़ पर पत्थर चलाने लगे.
जामुन तोड़ने के लिए चलाए जा रहे पत्थर जयप्रकाश की गाय को लग रहे थे. जयप्रकाश ने युवकों को पत्थर चलाने को मना किया जिसपर युवक भड़क गए और उन्हें गालियां देने लगे व भाग गए. युवकों ने घर जाकर यह बात इश्तियाक अंसारी और बिरादरी वाले लोगों को बताई, जिसके बाद भारी संख्या में मुस्लिम समुदाय की भीड़ हाथों में धारदार हथियार, लाठी डंडे लेकर ने जयप्रकाश कुशवाहा पर हमला कर दिया. पास ही खेत में धान की रोपाई करा रहे जयप्रकाश के बेटे मनीष(22), भाई ओमप्रकाश(48) दौड़ कर बचाने आए तो हमलावरों ने उन्हें भी मारपीट कर घायल कर दिया.
यहां तक घर की महिलाओं पर भी झुंड में टूट पड़े जो जहां मिला उसे जमकर पीटा. इस हमले में जयप्रकाश के अलावा मनीष, कन्हैया, ओमप्रकाश और सुशीला देवी भी घायल हो गए. हिंसा व उन्माद का नंगानाच करने के बाद आरोपी फरार हो गए. परिजनों ने घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने जयप्रकाश कुशवाहा को मृत घोषित कर दिया. वहीं मनीष और ओमप्रकाश का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है.
सूचना पाते ही एसपी डॉ.श्रीपति मिश्र जिला अस्पताल पहुंचे. चिकित्सक से घायलों के बारे में जानकारी ली. इसके बाद एसपी इटहुआ चन्दौली गांव पहुंचे. किसान की हत्या से गांव में तनाव फैल गया था. इसे देखते हुए एसपी ने आधा दर्जन थानों की फोर्स और दो प्लाटून पीएसी को तैनात कर दिया. पुलिस ने जयप्रकाश कुशवाहा के बेटे सुभाष कुशवाहा की तहरीर पर  21 नामजद व 12 अज्ञात के खिलाफ हत्या व अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है.
पुलिस द्वारा करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने इश्तियाक अंसारी, उसकी पत्नी अमीना खातून, बेटा आमिर, आसिक व अरशद के अलावा शफीक, मुख्तार, किताबुद्दीन, क्यामुद्दीन, वकील, मुश्ताक, साबिर, दिलशाद, राजू, इरशाद, शहाबुद्दीन, परवेज, फैयाज, इस्लाम, शाहिना खातून समेत 12 अज्ञात के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 302, 308, 323, 452, 504 व 506 आईपीसी के तहत केस दर्ज हुआ है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here