Covid19 के कारण इस साल नहीं होगी कांवड़ यात्रा … 3 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने मिलकर लिया फैसला

0
184
वैश्विक महामारी कोरोनावायरस ने कांवड़ यात्रा पर भी ग्रहण लगा दिया है. देश में कोरोना के तेजी से बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड तथा हरयाणा के मुख्यमंत्रियों ने सर्वसम्मति से इस बात का फैसला लिया है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर इस बारे में चर्चा की फिर कांवड़ यात्रा को स्थगित करने का निर्णय लिया गया.
बैठक में सामूहिक सहमति बनी कि कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए कांवड़ यात्रा को स्थगित कर दिया जाए. प्रदेश सरकारों को कांवड़ संघों और संत-महात्माओं से भी यही प्रस्ताव प्राप्त हुआ है. बता दें कि जुलाई माह में कांवड़ यात्रा संचालित की जानी थी. यात्रा में करोड़ों की संख्या में कांवड़िये हरिद्वार पहुंचते हैं. हरिद्वार से गंगाजल कांवड़ में भरकर अपने यहां शिव मंदिरों में जलाभिषेक करते हैं. यात्रा के दौरान सरकार के स्तर से कानून व्यवस्था व यातायात को लेकर कई तरह के इंतजाम करने पड़ते हैं.
सर्वाधिक कांवड़िये उत्तर प्रदेश और हरियाणा से आते हैं. इसी के तहत तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने आपस में चर्चा की. वार्ता के दौरान तीनों राज्यों के अधिकारियों ने कोविड-19 के कारण संक्रमण फैलने को लेकर आशंका जताई। कोविड-19 की गाइडलाइन के तहत भारी भीड़ को नियंत्रित करने में असमर्थता जताई गई. बैठक में निर्णय लिया गया कि कोविड-19 को रोकने के लिए बहुत जरूरी है कि लोगों को बड़ी संख्या में एकत्र होने से रोका जाए. लोग जलाभिषेक स्थानीय स्तर पर निर्धारित गाइडलाइन का पालन करते हुए कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here