IPL शुरू होने से पहले ही सक्रिय हो गए सट्टेबाज लेकिन कानपुर पुलिस भी थी पूरी तरह से मुस्तैद

0
601

आईपीएल का आगाज तो 19 सितंबर से होगा लेकिन सट्टेबाज उससे पहले ही सक्रिय हो गए हैं. विदेशी एप से ऑनलाइन सट्टा खेलने और खिलाने वाले बड़े गिरोह का कानपुर पुलिस ने भंडाफोड़ करके छह सटोरियों को गिरफ्तार किया है. 93 लाख 72 हजार 130 रुपये बरामद किए गए. नोट गिनने की मशीन के साथ 27 हजार की नेपाली करेंसी भी बरामद हुई. श्रीलंका और नेपाल से भी सटोरियों के कनेक्शन हैं। दो सटोरिये फरार हो गए.

इसके साथ ही लैपटॉप, सट्टा रजिस्टर, नोट गिनने वाली मशीन व मोबाइल बरामद हुए हैं. इस दौरान बिकरु कांड के मोस्ट वांटेड विकास दुबे के खजांची जय बाजपेई का साथी सटोरिया भी पकड़ा गया है. पुलिस उपमहानिरीक्षक डीआईजी प्रीतिंदर सिंह ने देर शाम वहां पर हर शुक्रवार को जनपद में आईपीएल मैचों की शुरुआत के साथ सक्रिय हुए सट्टेबाजी का भंडाफोड़ किया.

डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार, एसपी साउथ दीपक भूकर और एएसपी ट्रेनी अजय जैन के नेतृत्व में फजलगंज, नजीराबाद और काकादेव में छापा मारकर कौशलपुरी निवासी मोबाइल शॉप मालिक हरप्रीत सिंह बेदी, सूदखोर रीशू अरोरा, सरोजनीनगर फजलगंज से विनोद कुमार छाबड़ा, दर्शनपुरवा से रीजक सिंह और आजाद नगर तिर्वा कन्नौज के गुरमीत सिंह को गिरफ्तार किया.

ये सभी क्रिकेट मैच पर ऑनलाइन सट्टा खेल रहे थे। हरप्रीत के पास नोट गिनने वाली मशीन, एक रजिस्टर, 11 मोबाइल, और एक लैपटॉप भी मिला। रंजीत उर्फ रिंकू समेत दो सटोरिये फरार हो गए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here