राजस्व और खनिज विभाग की मिली भगत से चल रहा अवैध उत्खनन,

0
345
India, Rajasthan, Makranales, marble quarries where the Taj Mahal marble was extracted

पन्ना- आज प्रदेश में सरकार खनन को लेकर कई प्रकार की योजनाए चला रही है. वही मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में एक बड़ा मामला सामने आया है जहा राजस्व और खनिज विभाग की मिली भगत से चल रही है अवैध फर्शी पत्थर खदान, जहा सैकड़ो गरीब मजदूर सिलिकोसिस जैसी जानलेवा बीमारी से पीड़ित है और प्रशासन आखो में पट्टी बांधे बैठा है और दे रहा माफियाओ को बढ़ावा बताया जाता है की पवई तहसील क्षेत्र के ग्राम सिंगड़ा की राजस्व भूमि में अवैध रूप से चल रहा फर्शी पत्थर का उत्खनन शिकायत के बाद भी नहीं हो रही कोई कार्रवाई राजस्व भूमि को खोखला करने में लगे है खनन माफिया। पवई के सिंगड़ा क्षेत्र में कोई भी खदान स्वीकृत नहीं है लेकिन फिर भी धड़ल्ले से अवैध उत्खनन जारी है और खुलेआम खनिज और राजस्व की मिलीभगत से लंबे समय से चल रहा फर्शी पत्थर उत्खनन का अवैध कारोबार।

हालांकि अवैध पत्थर खदानों में मौजूद है करोड़ों कीमती सैकड़ों ट्रक अवैध फर्शी पत्थर लेकिन अधिकारियों की मिलीभगत से शासन की तिजोरी में डाला जा रहा है डाका अवैध पत्थर खदानों में काम कर रहे सैकड़ों बंधुआ मजदूर सिलिकोसिस की जानलेवा बीमारी से पीड़ित हैं पत्थर खदानों में काम करने वाले अधिकतर मजदूर राजस्व भूमि को खोखला और मजदूरों का शोषण कर रहे खनन माफिया। लेकिन खनिज अधिकारी और राजस्व अधिकारी व पुलिस एवं श्रम विभाग की आंखों में बंधी है स्वार्थ की पट्टी, फिर भी खुलेआम चल रहा धरती मां के सीने को छलनी और धरती को तहस-नहस करने वाला काला कारोबार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here