मुजफ्फरनगर पुलिस ने किया ऐसा कार्य कि हर्षित हुई योगी सरकार … दिया 2 लाख का इनाम

0
262

आगामी प्रधानी चुनाव को देखते हुए प्रदेश भर में अवैध शराब की खपत को लेकर अभियान चलाया जा रहा है. इस अभियान के अंतर्गत मुजफ्फरनगर पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. खबर के मुताबिक़, मुजफ्फरनगर पुलिस ने शराब तस्करी करने वाले अंतरराज्यीय गैंग के 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया हैं. इसके साथ ही मौके से पुलिस ने कई करोड़ का माल भी बरामद किया है.

बता दें कि आगामी प्रधानी और पंचायती चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर की पुलिस ने अवैध शराब की तस्करी पर रोक लगाने के लिए एक अभियान चलाया हुआ है. एसएसपी अभिषेक यादव ने पुलिस लाइन स्थित सभागार में प्रेस वार्ता करते हुए पूरे मामले का पर्दाफाश किया. उन्होंने बताया कि पुलिस ने पहले भी इनमें से कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था, जिसके बाद जेल से छूट कर आने के बाद आरोपियों ने फिर अवैध शराब का धंधा शुरू कर दिया था.

गिरफ्तार किए गए 13 आरोपियों में से 6 आरोपी ऐसे हैं जिनपर अवैध शराब के पहले से भी कई मामले दर्ज हैं. पुलिस इस बात की भी छानबीन कर रही है कि आगामी पंचायत चुनाव में चुनाव लड़ने के इच्छुक लोग इनके संपर्क में तो नहीं है. ऐसा है तो अगर किसी प्रत्याशी के पास इस तरह की नकली में अवैध शराब पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि इस अभियान में पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से 24 00 लीटर अल्कोहल, 5500 खाली पव्वे, 8200 रैपर, 20,000 ढक्कन, देसी व अंग्रेजी शराब के, 4500 बारकोड, पवे सील करने की एक मशीन, दो पंप, 500 खाली पेटी और 3 कार, 3 पेटी तैयार शराब सहित भारी मात्रा में शराब बनाने के उपकरण बरामद किए हैं. पुलिस के मुताबिक, ये शराब दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और हरियाणा में सप्लाई की जाती थी.

फैक्ट्री में जहरीली अंग्रेजी और देसी शराब बनाई जा रही थी. मुजफ्फरनगर पुलिस टीम को मिली सफलता की चर्चा चारों तरफ हो रही है, जिसके चलते उत्तर प्रदेश शासन द्वारा मुजफ्फरनगर पुलिस की इस गुड वर्क को देखते हुए शराब माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई करने के मामले में दो लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here