सैलून संचालक फुरकान अगवाकर ले गया दलित नाबालिग को , परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

0
191

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में दलित नाबालिग किशोरी के अपहरण का मामला सामने आ रहा है. आरोप है कि पेशे से नाई मुस्लिम युवक दलित समुदाय की किशोरी को बहला-फुसलाकर अगवाकर ले गया है. 5 दिन बाद भी लड़की की बरामदगी नहीं हो पाई है. पीड़िता के परिजनों ने स्थानीय थाना पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है. पीड़िता की मां ने रविवार को एसपी ऑफिस पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है.

एसपी के निर्देश पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है. यह पूरा मामला बिलरियागंज थाना क्षेत्र के बिंदवल गांव का बताया जा रहा है. यहां एक दलित महिला ने बताया कि 16 नवंबर को उसकी नाबालिग बेटी को मुस्लिम समाज का युवक फुरकान अगवाकर ले गया है. फुरकान पेशे से नाई बताया जा रहा है, उसकी एक सैलून की दुकान है.

पीड़िता की मां ने बताया कि जब बेटी को खोजते-खोजते उन्होंने फुरकान के घर जाकर पता किया तो उसका बाप बोला कि मेरा बेटा तुम्हारी लड़की भगा ले गया है. घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. पीड़ित परिवार ने फुरकान के परिजनों पर जान से मारने की धमकी का आरोप भी लगाया है. मां ने बताया कि जब वह फुरकान के घर बेटी का पता लगाने गईं तो उसका बाप बोला कि जान से मार डालेंगे अगर पुलिस में शिकायत की.

मां ने पुलिस पर भी कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि पुलिसवाले आज आ जाएगी, कल आएगी बोलकर टरका रहे लेकिन 5 दिन होने के बाद भी बेटी की बरामदगी नहीं हो पाई है. वहीं रविवार को पीड़िता की मां ने पुलिस अधीक्षक के ऑफिस पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई. जिस पर एसपी ने सख्त करने कार्रवाई करने व मुकदमा लिखने का आदेश दिया. पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है. पुलिस जल्द ही किशोरी की बरामदगी होने की बात कह रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here