Drug तस्करी के आरोप में मेक्सिको के पूर्व रक्षा मंत्री गिरफ्तार

0
28

 

नई दिल्लीः मैक्सको से एक बेहद चौंकाने वाली खबर आई है. यहां के पूर्व रक्षा सचिव नजरल सल्वाडोर सिएनफ्यूगोस को मादक पदार्थों की तस्करी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है. अमेरिकी अधिकारियों ने ये गिरफ्तारी लॉस एंजिल्स एयरपोर्ट पर की. ये वही जनरल सल्वाडोर हैं जिन्होंने पूर्व राष्ट्रपति एनरिक पेना नीटो के शासनकाल में 6 साल तक देश की सेना का नेतृत्व किया था.

गुप्त रखी गई थी गिरफ्तारी

बेहद हाई प्रोफाइल मामले को देखते हुए गिरफ्तारी की इस जानकारी को भी बेहद गुप्त रखा गया था.मेक्सिको के विदेश मंत्री, मार्सेलो एबरार्ड ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि अमेरिकी राजदूत क्रिस्टोफर लैंडौ ने उन्हें रिटायर्ड जनरल की गिरफ्तारी की सूचना दी थी और सेनफ्यूगोस को कांसुलर सहायता प्राप्त करने का अधिकार था.

ऐेसे सामने आया मामला

उत्तर अमेरिका के देश मेक्सिको में नेवी ने बड़ी मात्रा में ड्रग्स जब्त की. ड्रग्स ले जा रही नाव की खबर मिलने पर नेवी ने इस नाव का पीछा शुरू किया तो इस छोटी नाव में सवार लोगों को समुद्र में कुछ फेंकते हुए देखा. इसके बाद मेक्सिको नेवी ने इस छोटी नाव को रोक लिया और इससे कोकीन ड्रग्स के 95 पैकेट बरामद किए.मेक्सिको नेवी का ये ऑपरेशन देश के दक्षिणी समुद्री किनारे से 325 नॉटिकल मील दूर हुआ. इस बोट और इस पर सवार लोगों को पकड़ने के लिए नेवी ने हवाई जहाजों और हैलिकॉप्टरों की मदद भी ली. काउंटी का ये पैसिफिक कोस्ट अमेरिका तक पहुँचने के लिए दक्षिण अमेरिकी कार्टेल्स के लिए एक प्रमुख तस्करी मार्ग है.

मैक्सिकन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जब वह अपने परिवार के साथ लॉस एंजिल्स हवाई अड्डे पर पहुंचे थे तो Cienfuegos को गिरफ्तार किया गया था. 72 साल के सेनफ्यूगोस को परिवार के साथ हिरासत में लिया गया फिर बाद में परिवार के सदस्यों को रिहा कर सेनफ्यूगोस को मेट्रोपॉलिटन डिटेक्शन सेंटर ले जाया गया.

कुछ और नाम सामने आने की आशंका

सिएनाफ्यूगोस ने पेना नीटो के तहत रक्षा सचिव के रूप में 2012 से 2018 तक सेवा की. मैक्सिकन सुरक्षा अधिकारी गेनारो गार्सिया लूना को 2019 में टेक्सास में गिरफ्तार किया गया था. उसके बाद से सेनफ्यूगोस गिरफ्तार किए गए सर्वोच्च रैंकिंग वाले पूर्व कैबिनेट अधिकारी हैं.सेनफ्यूगोस पर भ्रष्टाचार के आरोप थे मगर इतने बड़े अधिकारी के लिए ऐसे आरोपों को अक्सर अनसुना किया गया. अब अमेरिकी अधिकारियों की पूछताछ में कुछ और बड़े नाम सामने आ सकते हैं.

आरोपों में घिरी रही है मैक्सिकन आर्मी

मैक्सिकन आर्मी पर मानवाधिकारों के हनन के आरोप लगते रहे हैं, पर पूर्व जनरल सेनफ्यूगोस के कार्यकाल में सेना पर सबसे सनसनीखेज आरोप 2014 में लगे थे जब एक अनाज गोदाम में संदिग्धों की हत्या का आरोप सेना पर लगा था.जून 2014 के नरसंहार में सैनिक शामिल थे जिन्होंने टाल्टालाया शहर के गोदाम में 22 संदिग्धों को मार दिया था. जबकि सेना की गश्ती के साथ शुरुआती गोलीबारी में कुछ की मौत हो गई थी. इस ऑपरेशन में एक सैनिक घायल हुआ था.

मेक्सिको के लिए बड़ा झटका

मेक्सिको के लिए ये एक बड़ा झटका है और बेहद शर्मनाक है कि उसके दो कैबिनेट स्तर के अधिकारियों को अमेरिका में गिरफ्तार किया गया है. वर्तमान राष्ट्रपति एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर ने पिछले प्रशासन के तहत हुए भ्रष्टाचार और मुकदमेबाजी के खुलासे की क़सम खाई है. लेकिन ये भी हैरान करने वाला है कि उन्होंने भी सेना पर बहुत भरोसा किया है.

DEEPAK SHARMA

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here