मुजफ्फरनगर की छपार पुलिस की बड़ी कार्यवाई, किया नकली सीमेंट फैक्ट्री का भंडाफोड़

0
429

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की छपार पुलिस ने बड़ी कार्यवाई करते हुए रामपुर तिराहे के निकट नकली सीमेंट फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए पांच लोगो को गिरफ्तार किया है. इस दौरान पुलिस ने बड़ी संख्या में नकली सीमेंट और उसके बनाने की सामग्री आदि बरामद की है. ये कार्यवाई एसएसपी अभिषेक यादव के कुशल मार्गदर्शन में व पुलिस अधीक्षक क्राइम दुर्गेश कुमार सिंह व सी ओ सदर कुलदीप सिंह के नेतृत्व में थानाप्रभारी छपार यशपाल सिंह व क्राइम ब्रांच पुलिस टीम ने की है.

आपको बता दें कि छपार थानाप्रभारी यशपाल सिंह की इमेज जनता के बीच एक सच्चे सेवक की है जो पूरी ईमानदारी व् तन्मयता के साथ आम जनता के हित में तथा अपराधीकरण के खिलाफ कार्य करने में विश्वास रखते हैं. छपार क्षेत्र के लोग चैन सकून की जिंदगी जी सके इसके लिए थानाप्रभारी यशपाल सिंह का प्रयास है कि कानून का राज मजबूती के साथ कायम रखा जाए तथा क्षेत्र से अपराधियों के साथ ही अवैध कार्यो का भी खत्मा किया जाए.

इसी क्रम में रामपुर तिराहे के निकट चल रही नकली सीमेंट फैक्टरी का भंडाफोड़ करते हुए छपार पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मौके से बड़ी मात्रा में नकली सीमेंट, खराब सीमेंट के कट्टे, खाली बोरे, माल लदी दो गाड़ियां व अन्य सामान बरामद किया गया है. फैक्टरी मालिक सहित पांच आरोपी फरार हैं, जिनकी तलाश के लिए टीम गठित की गई है. आरोपियों की निशादेही पर दो गाड़ी पिकअप बरामद की हैं जिसमें लदे हुए 183 मिश्रित तैयार सीमेंट के कट्टे भी बरामद किए गए हैं.

इस बाबत प्रेसवार्ता करते हुए एसपी क्राइम दुर्गेश कुमार सिंह ने बताया कि छपार पुलिस व क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने रोहाना-रामपुर तिराहा मार्ग स्थित एक गोदाम पर छापा मारा. मौके पर अल्ट्राटेक सीमेंट कंपनी का नकली सीमेंट तैयार किया जाता मिला, जहां से पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि फैक्टरी मालिक समेत पांच आरोपी मौका पाकर फरार हो गए. एसपी क्राइम ने बताया कि जांच में पता चला है कि आरोपी करीब एक साल से इस अवैध धंधे में जुटे थे.

आरोपी विभिन्न जनपदों से खराब हो चुके सीमेंट को फैक्टरी में लाने के बाद उसे पीसकर फिर से सीमेंट के कट्टों में भरकर मुजफ्फरनगर के साथ ही सहारनपुर, बागपत, मेरठ व आसपास के कई अन्य जनपदों में सप्लाई करते थे। नकली सीमेंट के एक कट्टे की लागत करीब 140 रुपये आती थी, जिसे आरोपी 340 रुपये में सप्लाई करते थे. गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मोहल्ला दीन मोहम्मद, सुजड़ू निवासी मुदस्सिर पुत्र सिकंदर बेग, सिखेड़ा निवासी मारूफ पुत्र फारूख, मोहल्ला कृष्णापुरी निवासी मनव्वर पुत्र हसन अब्बास, अंबा बिहार (सुजड़ू) निवासी आसिफ पुत्र आसरीन और रोहना खुर्द निवासी अनिल पुत्र श्यामलाल शामिल हैं.

एसपी क्राइम दुर्गेश कुमार सिंह ने बताया कि नकली सीमेंट फैक्टरी चलाने वाला आरोपी शहर के भरतिया कॉलोनी निवासी राजेश सिंघल है, जो चार अन्य आरोपियों के साथ मौके से फरार हो गया है. फरार आरोपियों की तलाश में टीम का गठन किया गया है और बहुत जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इस सराहनीय गुडवर्क करने वाले टीम में छपार थानाप्रभारी यशपाल सिंह, एस आई रविशंकर पांडये,एस आई सौकीन खान, एस आई सतबीर सिंह,कॉस्टेबल रामबीर सिंह, कॉस्टेबल होमपाल सिंह व क्राइम ब्रांच टीम में एस आई प्रवेश कुमार, कॉस्टेबल हरवेंद्र कुमार,कॉस्टेबल जितेंद्र त्यागी, कॉस्टेबल वकार,कॉस्टेबल विनित कपासिया,कॉस्टेबल शिवम यादव आदि मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here