अर्णब गोस्‍वामी की बढ़ी मुश्किलें, रिपब्लिक टीवी के इस अधिकारी को पुलिस ने बुलाया

0
192

 

नई दिल्ली: TRP स्कैम (TRP Scam) ने रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. रिपब्लिक TV के CFO को समन भेजकर मुंबई क्राइम ब्रांच ने शनिवार को पेश होने के लिए कहा है. इस मामले में रिपब्लिक TV के अकाउंट्स का फॉरेंसिक ऑडिट भी किया जाएगा. जानकारी के मुताबिक रिपब्लिक TV पर एविडेंस से छेड़छाड़ का मामला भी दर्ज किया जा सकता है.

बता दें कि मुंबई पुलिस की आज BARC CEO के साथ मीटिंग हुई है. BARC को मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक TV और बाकी दोनों चैनलों के TRP ट्रेंड्स भी मुहैया कराने के लिए कहा है. साथ ही मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक के कुछ एडवरटाइजर्स को भी शॉर्टलिस्ट किया है. इनमें से कुछ को विटनेट के तौर पर बुलाया जा सकता है

संजय राउत ने बताया कितने का है ये ‘खेल’

शिवसेना नेता संजय राउत ने टीआरपी घोटाले को 30 हजार करोड़ रुपए का बताया है. संजय राउत ने कहा है कि अगर मुंबई पुलिस कमिश्नर खुद प्रेस काफ्रेंस करके सारी बात कह रहे हैं तो उनके पास जरूर कोई न कोई ठोस सबूत होंगे.

सत्य का ढोंग हुआ बेपर्दा

संजय राउत ने कहा है कि यह टीआरपी का बड़ा घोटाला है. मुंबई पुलिस के अनुमान के मुताबिक घोटाला 30 हजार करोड़ का हो सकता है. जो चैनल महाराष्ट्र के नेताओं पर छींटकशी कर रहा था और सत्य की बात कर रहा था उसके पीछे कितना बड़ा ढोंग है यह सामने आ गया है. मुंबई पुलिस ने पर्दे के पीछे की हकीकत उजागर कर दी है.

क्या है TRP घोटाला

दरअसल मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने गुरुवार को खुलासा किया है कि तीन चैनल कुछ लोगों को हर महीने 400 से 500 रुपये का लालच देकर अपनी TRP बढ़वा रेह थे. इस घोटाले का खुलासा मुंबई पुलिस की कार्रवाई से हुआ है. मामले की शिकायत TRP बताने वाली एजेंसी BARC  ने खुद की थी. सूत्रों के मुताबिक TRP घोटाले में मुंबई पुलिस के पास कई अहम सबूत हैं. मुंबई पुलिस ने इस मामले में विशाल भंडारी नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है. लेकिन टीआरपी के इस पूरे खेल में संजू राव नाम का शख्स बड़ी मछली है. TRP घोटाले पर मुंबई पुलिस के खुलासे के बाद रेटिंग एजेंसी BARC ने भी बयान जारी कर जांच का स्वागत किया है. साथ ही जांच में हर मदद देने का भरोसा भी जताया है.

DEEPAK SHARMA

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here