72 साल की आदिवासी महिला परिवार के संग टॉयलेट में रहने को हुई मजबूर

0
195

मयूरभंज – ओडिशा के मयूरभंज में 72 वर्षीय एक महिला टॉयलेट में रहने को मजबूर हैं. बता दे कि मयूरभंज जिले की आदिवासी महिला पिछले तीन सालों से सरकारी अनदेखी के कारण द्रोपदी बेहरा इस तरह की जीवन जी रही हैं.

जानकरी के अनुसार, कनिका गांव के द्रौपदी बहेरा का कहना है कि उनका पूरा परिवार, जिनमें उनकी बेटी और पोता है, वह सभी खुले आसमान में बाहर सोने को मजबूर हैं। हालांकि, द्रौपदी टॉयलेट में खाना पकाती हैं और वहीं पर सो भी जाती हैं.

जबकि, द्रौपदी की मानें तो वह कई बार इसकी शिकायत संबंधित विभागों के सामने उठाया। यहां तक की विभागों की तरफ उन्हें आवास मुहैया कराने का वादा किया गया. लेकिन अभी तक आवास मुहैया नहीं कराया गया. हम अबतक अपने आवास मिलने का इंतजार हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here