एंबुलेंस चालक और सरकारी कर्मी मिलकर , दवाओं की कर रहे थे कालाबजारी

0
166

एक तरफ कोरोना से लोगों का हाल बेहाल है दूसरी तरफ कालाबाजारी करने वाले लोग कालाबाजारी करने से बाज नहीं आ रहे

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के सुस्ता गांव में पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर भारी मात्रा में सरकारी सप्लाई कोरोना जांच संबंधित चीजें बरामद की और विभिन्न भागों से 5 लोगों की गिरफ्तारी की है

जानकारी के मुताबिक पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि कोरोना की जांच और इलाज से संबंधित दवा और अन्य चीजों की कालाबाजारी हो रही है

इसके बाद पुलिस ने डीएसपी पूर्वी मनोज कुमार पांडे और प्रशिक्षु डीएसपी सह सकरा थाना अध्यक्ष सतीश सुमन के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया और सूचना के सत्यापन के बाद सुस्ता गांव में छापेमारी की छापेमारी के दौरान पुलिस हैरान रह गई

पुलिस ने करीब चार से अधिक एंटीजन जांच किट, पीपीई किट, सर्जिकल मास्क, सेनिटाइजर, जांच घर में उपयुक्त होने वाला माइक्रोस्कोप, स्लाइड और कई केमिकल जप्त किए

इस दौरान मौके से लव कुमार नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया जिसके सत्यापन में पुलिस को पता चला कि वह सदर अस्पताल में संविदा पर तैनात लैब टेक्नीशियन के रूप में कार्य करता है

उसने यह सारा सामान अपने ससुराल सुस्ता गांव में रखा था वहीं, पुलिस की टीम ने जब लव कुमार से पूछताछ शुरू की तब उसने चौकानेवाले कई राज पुलिस को बताए

इसके बाद उसकी निशानदेही पर अन्य चार की गिरफ्तारी हुई, जिसमें संविदा पर कार्यरत सकरा रेफरल अस्पताल कर्मी अवधेश कुमार के साथ-साथ पकड़े गए तीन अन्य एंबुलेंस चालक भी शामिल थे

Report – jivika jaiswal

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here