‘गर्दन के बदले गर्दन तोड़ देंगे, RSS की ट्रेनिंग है

0
185

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कूचबिहार की रैली में दावा किया कि ममता बनर्जी ने सेल्फ गोल कर लिया है, उन्हें पता हो गया है कि वो हारने जा रही हैं। ममता ने मुसलमान वोटरों से एकजुट रहने की अपील की थी। पीएम मोदी ने कूचबिहार की रैली में कहा की अगर मैं कहता कि सारे हिंदू एकजुट हो जाओ तो मुझे चुनाव आयोग का नोटिस आ गया होता
संघ ने शहरों की गलियों और गांव की पगडंडियों में तृणमूल कांग्रेस और वामपंथी दलों के कार्यकर्ताओं से दो-दो हाथ कर बीजेपी के लिए जमीन तैयार की है। खड़गपुर की रैली में मोदी ने यूं हीं दिलीप घोष की तारीफ कर बड़ा संकेत नहीं दिया था। भद्रलोक जो घोष खुद पर हमले झेल कर बीजेपी का झंडा बुलंद करते आए हैं। तभी मोदी को कहना पड़ा – ‘मैं क्यों इतना निश्चित हूं कि बंगाल में हमारी सरकार आने जा रही है। यह गर्व की बात है कि हमारे पास दिलीप घोष जैसे नेता हैं। बीजेपी के130 के करीब कार्यकर्ताओं ने अपना जीवन न्यौछावर कर दिया ताकि बंगाल आबाद रहे। दिलीप घोष ना चैन की नींद सोए हैं न दीदी की धमकियों से डरे हैं। उन पर अनेक हमले हुए हैं। मौत के घाट उतारने की कोशिश हुई लेकिन वो बंगाल के उज्ज्वल भविष्य का प्रण लेकर चल पड़े और आज पूरे बंगाल में नई ऊर्जा भर रहे हैं।’हिंदू जागरण मंच के प्रचारक से बीजेपी के अध्यक्ष बने दिलीप घोष ने टीएमसी को उसी की भाषा में जवाब देने की नीति अपनाई। जब गर्दन के बदले गर्दन तोड़ने जैसे बयान उन्होंने दिए तो काफी आलोचना हुई लेकिन ‘कार्यकर्ताओं का अपमान नहीं सहने के संकल्प’ की आड़ में वो इसे जायज भी ठहराते गए। 2016 के विधानसभा चुनाव में महज तीन सीटों पर सिमटने वाली बीजेपी को उम्मीद भी नहीं थी कि तीन साल बाद लोकसभा चुनाव में उसका वोट प्रतिशत 40 पर पहुंचने वाला है

 

 

REPORT-JIVIKA JAISWAL

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here